अंशु प्रकाश से मारपीट मामले में मनीष सिसोदिया से ढाई घंटे तक पूछताछ की

AajKiDuniya 26/5/2018

  मुख्य सचिव अंशु प्रकाश से मारपीट मामले में उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया से शुक्रवार शाम उनके सरकारी आवास पर पुलिस ने ढाई घंटे तक पूछताछ की। इस दौरान उनसे सवा सौ से अधिक सवाल पूछे गए। अतिरिक्त पुलिस उपायुक्त हरेंद्र सिंह ने बताया कि शुक्रवार शाम 4:30 बजे जांच अधिकारियों की टीम मनीष सिसोदिया के सरकारी आवास पर पहुंची। सूत्रों के अनुसार, इस टीम में हरेंद्र सिंह के अलावा एसीपी सिविल लाइंस अशोक त्यागी, इंस्पेक्टर विवेकानंद झा, एसएचओ करण सिंह एवं इंस्पेक्टर ज्ञानेश्वर सिंह शामिल थे। टीम शाम 7 बजे पूछताछ खत्म कर बाहर निकली।
   
   अतिरिक्त पुलिस उपायुक्त ने बताया कि मुख्य सचिव अंशु प्रकाश ने अपनी शिकायत में सिसोदिया की भूमिका का जिक्र करते हुए कहा था कि 19 फरवरी की शाम 7 बजे उपमुख्यमंत्री सिसोदिया ने उन्हें फोन किया था। फोन पर मुख्य सचिव से ‘आप' सरकार के तीन साल पूरे होने पर जारी होने वाले विज्ञापन के बिलों का भुगतान करने के लिए कहा गया था। ऐसा नहीं करने पर सिसोदिया ने कहा था कि उन्हें आधी रात को मुख्यमंत्री आवास पर बुलाकर इस बारे में सफाई देनी पड़ेगी। अतिरिक्त पुलिस उपायुक्त ने बताया कि मुख्य सचिव के इन दावों के आधार पर उपमुख्यमंत्री से पूछताछ जरूरी थी।
   
   सिसोदिया ने बहुत सी बातों की जिम्मेदारी केजरीवाल पर डाली: पुलिस अफसर ने बताया कि सिसोदिया ने बहुत सी बातों की जिम्मेदारी मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पर भी डाली। फिलहाल इस पूछताछ से पुलिस को आरोप पत्र तैयार करने में काफी मदद मिलेगी। पुलिस ने वीडियो रिकॉर्डिंग की भी व्यवस्था की थी। इससे पहले पुलिस ने मुख्यमंत्री केजरीवाल से 18 मई को पूछताछ की थी।

Related Post